शुक्रवार, 7 फ़रवरी 2014

सिविल सेवा परीक्षा के लिए हिंदी भाषा और साहित्य वैकल्पिक विषय का पाठ्यक्रम

सिविल सेवा परीक्षा के लिए हिंदी भाषा और साहित्य वैकल्पिक विषय का पाठ्यक्रम

मुख्य परीक्षा में हिंदी वैकल्पिक विषय के 250 अंकों के दो पत्र (कुल 500 अंक )हैं | पहला पत्र हिंदी भाषा और साहित्य के इतिहास पर केन्द्रित है | दूसरे पत्र में हिंदी साहित्य की विभिन्न विधाओं की कृतियों का आस्वादन और उनपर केन्द्रित सवाल पूछे जायेंगे |

हिंदी प्रश्नपत्र 1
(उत्तर हिंदी में लिखने होंगे )
खंड 'क'
1.हिंदी भाषा एवं नागरी लिपि का इतिहास

१)अपभ्रंश, अवहट्ट एवं आरम्भिक हिंदी का व्याकरणिक एवं अनुप्रयुक्त स्वरुप
२)मध्यकाल में ब्रज एवं अवधी का साहित्यिक भाषा के रूप में विकास
३)सिद्धनाथ साहित्य, खुसरो, संत साहित्य, रहीम आदि कवियों एवं दक्खिनी हिंदी में खड़ी बोली हिंदी का प्रारंभिक स्वरुप
४)उन्नीसवीं शताब्दी में खड़ी बोली और नागरी लिपि का विकास
५)हिंदी भाषा और नागरी लिपि का मानकीकरण
६)स्वतंत्रता आन्दोलन के दौरान राष्ट्रभाषा के रूप में हिंदी का विकास
७)भारतीय संघ की राजभाषा के रूप में हिंदी का विकास
८)हिंदी भाषा का वैज्ञानिक और तकनीकी विकास
९)हिंदी की प्रमुख बोलियां और उनका परस्पर सम्बन्ध
१०)नागरी लिपि की प्रमुख विशेषताएँ और उसके सुधार के प्रयास तथा मानक हिंदी का स्वरुप
११)मानक हिंदी की व्याकरणिक संरचना

खंड 'ख'
2. हिंदी साहित्य का इतिहास 
१)हिंदी साहित्य की प्रासंगिकता और महत्त्व तथा हिंदी साहित्य के इतिहास लेखन की परंपरा
 २) हिंदी साहित्य के इतिहास के निम्नलिखित चार कालों की साहित्यिक प्रवृतियाँ
क) आदिकाल- सिद्ध, नाथ एवं रासो साहित्य
    प्रमुख कवि- चंदरवरदाई, खुसरो, हेमचन्द्र, विद्यापति
ख) भक्तिकाल- संत काव्यधारा, सूफी काव्यधारा, कृष्णभक्तिधारा एवं रामभक्तिधारा
     प्रमुख कवि- कबीर, जायसी, सूर एवं तुलसी
ग) रीतिकाल- रीतिकाव्य, रीतिबद्ध काव्य एवं रीतिमुक्त काव्य
     प्रमुख कवि- केशव, बिहारी, पद्माकर एवं घनानंद
घ) आधुनिक काल
   *नवजागरण, गद्य का विकास, भारतेंदु मंडल
   *प्रमुख लेखक- भारतेंदु, बालकृष्ण भट्ट एवं प्रताप नारायण मिश्र
   *आधुनिक हिंदी कविता की प्रमुख प्रवृतियाँ : छायावाद, प्रगतिवाद, प्रयोगवाद, नयी कविता, नवगीत,       समकालीन कविता और जनवादी कविता
 प्रमुख कवि- मैथिलीशरण गुप्ता, प्रसाद, निराला, महादेवी, दिनकर, अज्ञेय, मुक्तिबोध, नागार्जुन

३) कथा साहित्य 
 क)उपन्यास और यथार्थवाद
 ख)हिंदी उपन्यासों का उद्भव और विकास
 ग) प्रमुख उपन्यासकार - प्रेमचंद, जैनेन्द्र, यशपाल, रेणु एवं भीष्म साहनी

 घ) हिंदी कहानी का उद्भव और विकास
 ड.)प्रमुख कहानीकार - प्रेमचंद, प्रसाद, अज्ञेय, मोहन राकेश एवं कृष्णा सोबती

४) नाटक और रंगमंच
 क)हिंदी नाटक का उद्भव और विकास
 ख) प्रमुख नाटककार - भारतेंदु, जयशंकर प्रसाद, जगदीश चन्द्र माथुर, रामकुमार वर्मा, मोहन राकेश
 ग) हिंदी रंगमंच का विकास

५) आलोचना 
 क)हिंदी आलोचना का उद्भव एवं विकास
   सैधांतिक, व्यवहारिक, प्रगतिवादी, मनोविश्लेषणवादी एवं नयी आलोचना
  ख) प्रमुख आलोचक- रामचंद्र शुक्ल, हजारी प्रसाद द्विवेदी, रामविलास वर्मा एवं नगेन्द्र

६) हिंदी गद्य की अन्य विधाएँ 
  ललित निबंध, रेखाचित्र, संस्मरण, यात्रा-वृतांत




प्रश्न पत्र -2
(उत्तर हिंदी में लिखने होंगे )

इस प्रश्न पत्र में निर्धारित मूल पाठ्य पुस्तकों को पढना अपेक्षित होगा और ऐसे प्रश्न पूछे जायेंगे जिससे अभ्यर्थी की आलोचनात्मक क्षमता की परीक्षा हो सके |

खंड 'क' 
(पद्य )
1. कबीर : कबीर ग्रंथावली, संपादक श्यामसुंदर दास (आरंभिक 100 पद )
2. सूरदास: भ्रमरगीत सार, संपादक रामचंद्र शुक्ल (आरंभिक 100 पद )
3. तुलसीदास: रामचरितमानस (सुंदर कांड)
                      कवितावली (उत्तरकाण्ड )
4. जायसी : पद्मावत, संपादक श्यामसुंदर दास (सिंघल द्वीप खंड एवं नागमती वियोग खंड)
5. बिहारी : बिहारी रत्नाकर, संपादक जगन्नाथ प्रसाद रत्नाकर ( आरंभिक 100 दोहे )
6. मैथिली शरण गुप्त : भारत भारती
7. जयशंकर प्रसाद : कामायनी (चिंता और श्रद्धा सर्ग )
8. सूर्यकांत त्रिपाठी निराला : राग-विराग, संपादक रामविलास शर्मा ('राम की शक्ति पूजा' और 'कुकुरमुत्ता' )
9. रामधारी सिंह दिनकर : कुरुक्षेत्र
10. अज्ञेय : आँगन के पार द्वार (असाध्य वीणा )
11. मुक्तिबोध : ब्रह्मराक्षस
12. नागार्जुन : बादल को घिरते देखा है, अकाल के बाद, हरिजन गाथा


खंड 'ख'
(गद्य)
1. भारतेंदु : भारत दुर्दशा
2. मोहन राकेश : आषाढ़ का एक दिन
3. रामचंद्र शुक्ल : चिंतामणि (भाग 1)- 'कविता क्या है' , 'श्रद्धा और भक्ति'
4. डॉ सत्येन्द्र : निबंध निलय - बालकृष्ण भट्ट, प्रेमचंद, गुलाब राय, हजारी प्रसाद द्विवेदी, राम विलास शर्मा,     अज्ञेय, कुबेर नाथ राय
5. प्रेमचंद : गोदान
                प्रेमचंद की सर्वश्रेष्ट कहानियां, संपादक अमृत राय / मंजूषा- प्रेमचंद की सर्वश्रेष्ठ कहानियां,                           संपादक अमृत राय
6.जयशंकर प्रसाद : स्कंदगुप्त
7.यशपाल : दिव्या
8. फणीश्वर नाथ रेणु : मैला आँचल
9. मन्नू भंडारी : महाभोज
10.राजेंद्र यादव : एक दुनिया समानांतर( सभी कहानियां)

आशा है कि हिंदी भाषा एवं साहित्य को वैकल्पिक विषय के रूप में रखने वाले अभ्यर्थी इससे लाभान्वित होंगे | हिंदी भाषा एवं साहित्य वैकल्पिक विषय की तैयारी के बारे में अपने अनुभव और मार्गदर्शन को लेकर मैं शीघ्र ही हाजिर होऊंगा |
----केशवेन्द्र कुमार आईएएस ----

39 टिप्‍पणियां:

  1. Sir bharat ki rajyavyastha 4th edition ki.mil rhi

    prarambhik pariksha ke liye kitabo ki suchi jarur bataye. Sir quallify exam m English wale paper ke liye kuch jarur bataye Kaise tyari ki jaye Dhanyawad

    उत्तर देंहटाएं
  2. अंग्रेजी के खण्ड की तैयारी के लिये कुछ टिप्स।
    1. अपनी शब्दावली को मजबूत करें। इससे आप बच नही सकते । यदि इस बिन्दु की लापरवाही आपके सपने को चूर कर सकती है।
    2. प्रतिदिन कुछ नयें शब्दों को सीखें। इसे अपनी पाकेट डायरी में नोट भी करते चलें। पेन्सिल से नोट करें जब आप उन शब्दों से अच्छी तरह से परिचित हो जायें । डायरी से उन शब्दों को हटा दीजिये।
    3. अगला चरण है व्याकरण का ज्ञान।आप अपने स्तर से इसे तैयार करे।
    4. आपको अगं्रेजी के मुहावरे आदि से परिचित होना पडेगा। पिछले वर्ष एक प्रश्न इसी के चलते मुश्किल हो गया था।
    5. अनुवाद करने की आदत विकसित कीजिये। नियमित तौर पर किसी समाचार पत्र, पत्रिका से 10 वाक्यांे का अनुवाद हिन्दी में करने की कोशिश कीजिये।
    6. किसी अंग्रेजी समाचार पत्र का नियमित अध्ययन करिये। यह बिन्दु इतने बाद इसलिये क्योंकि यह आसान काम नही है।पेपर पढना तभी अच्छा जब आप उपर के बिन्दुआंे पर परिश्रम करना प्रारम्भ कर चुके हो। किसी के कहने में आकर द हिन्दु जैसे पेपर को पढना न शुरू कर दीजिये। कुछ भले जोश में आप समय देकर इसे समाप्त कर दें पर शीघ्र ही आप यह महसूस करेंगें कि आप समय बहुत जा रहा है और आपको लाभ बहुत कम।
    7. इसलिये अंग्रेजी की तैयारी बहुत ही क्रमबद्व तरीके से करिये।
    8. आप की यह क्रमबद्वता सिविल सेवा के तीनो ही चरणों मे सहायक होगी।
    9. परीक्षा हाल में पहले प्रश्नों को पढें फिर पैरा को। यह ज्यादा सहज और सटीक तरीका होगा।
    10. परीक्षा हाल में अपने चित्त को एकाग्र कर प्रश्नों को हल करें
    11. पैरा पढते समय लेखक के भाव को समझने का प्रयास करे।
    12. चारों विकल्पों को पढ कर ही उत्तर दीजिये।संघ लोक सेवा आयोग की खास बात यह है कि सही विकल्प के साथ ही उसका करीबी विकल्प जरूर रखता है।

    उत्तर देंहटाएं
  3. Dear sir Namashkar
    Mai confuse hu aapse kuch suggestion chahiye maine hindi medium se schooling ki uske baad maine b.tech kia mai meri vocab weak hai bht se words smjh.nhi aate hai but mujhse bht se logo ne bola ki hindi medium se preparation krne se ias qualify nhi hotahai english language se ata hai sir mai bht confuse hai aap mujhe suggest kare pllllzzzz

    उत्तर देंहटाएं
  4. Alam, in my opinion, medium does not matter for civil service preparation. if you are more comfortable in Hindi medium, then you should opt for Hindi medium without any doubt. Many students from Hindi medium has made it to top ten list in previous years. So, what matters is your expression, not the medium of expression as far as civil service exam is concerned.

    उत्तर देंहटाएं
  5. Thanx a lot sir for your valuable time which you give me all these your words is just like golden word....

    उत्तर देंहटाएं
  6. Sir. Newspaper ke liye the Hindu ya koi aur ? Konki main gujarat ke remote area main rhta hu mgar yahan gujarati paper hi aata h. Maine the Hindu ka epaper subscribe krwa rkha h mgar net pe paper pdna convenient nahin lgta . Please guide sir

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. किशन जी, समाचारपत्र के लिए आप एक गुजराती के किसी अच्छे समाचारपत्र पर भी भरोसा कर सकते हैं | हिन्दू हर किसी अभ्यर्थी के लिए आवश्यक नहीं |

      हटाएं
  7. We have to study all these topics covered above in Hindi....? I haven't even heard about these....where m i supposed to get books on these? Plzzzz help....m not very good in Hindi...nd cannot select any other language for paper 1 because i belong to Himachal...plzzz reply

    उत्तर देंहटाएं
  8. Sir ,is it necessary to choose one optional subject as litrature?

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. इस आलेख में जो सिलेबस दिया गया है, वो हिंदी वैकल्पिक विषय के लिए है| सामान्य हिंदी का स्तर १० वीं कक्षा का है | लिटरेचर को ऑप्शनल सब्जेक्ट के रूप में चुनना अनिवार्य नहीं है, आपकी अगर रुचि हो तो आप इसे चुन सकते हैं |

      हटाएं
  9. Please sir, es bar hindi medium se kitne candidate select hua bataye? Aur Pre ke liye Guide kre.

    उत्तर देंहटाएं
  10. Dear sir namste
    mera nam vaibhav sachan hai.mai ek librarian hu. meri date of birth : 04/07/1984 hai mai married hu meri wife govt job me hai kya mai job chhodkar civil services ya pcs ki preparation kr skta hu. kya mai es exam ki preparation ke liye late ho gya hu please sir guide kre .

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. वैभव, आप राज्य सिविल सेवाओं की परीक्षा दे सकते हैं क्योंकि वहां उम्र सीमा ज्यादा है | सिविल सेवा के लिए आयु सीमा आप परीक्षा की नोटिस से चेक कर सकते हैं| आप अपनी जॉब के साथ या कुछ दिनों की छुट्टी लेकर तयारी कर सकते हैं |

      हटाएं
  11. sir sbse phle apko a lot of thanks jo ap apna itna precious time hm hindi medium se civil services se preparation krne wale student ko de rahe hai. thanks again sir. sir mera naam alok tiwari hai.sir mai hindi sahitya se graduation kr raha hu . sir is bar mera third year rahege. sir graduation first year ke bad mai kuc problem ki wajah se second year me ek saal bad addmission liya. sir mujhe ye janna hai ki mere graduation me hue is gap se muje civil services ke interview me kya koi dikkat hogi ?kya mai iske wajah se interview se bahar ho jauga sir? sir plz rply me plz

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. आलोक, ऐसी चिंता करने की इसमें कोई बात नहीं | इंटरव्यू में आपसे इसके बारे में पूछा जा सकता है | आपके पास उसका संतोषजनक उत्तर होना चाहिए | इससे ज्यादा फर्क नही पड़ेगा | शुभकामनाएँ |

      हटाएं
  12. sbse phle apko very very good mrng.and a lot of thanks hm logon ki itni help krne ke liye.sir muje apse ek advise chahiye .sir maine hindi sahitya ko ias mains ka optioal chuna hai.sir iske sath uppcs ke liye dusra subject kaun sa thik rahega? history ya fr sociology ya geography ya pub addmins.sir plz reply me .aur sir apne jo hindi sahitya ka syllabus publish kiya hai usme ye nahi btaya ki hm logon ko kis writer ki book padni chahye?plz sir ap ek br pura hindi sahitya ka syllabus post kr dijiye mai apka bhut bhut abhari rahuga.

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. आलोक, हिंदी साहित्य की बुक लिस्ट ब्लॉग के पुराने आलेख में उपलब्ध है | राज्य सेवाओं के लिए दुसरे वैकल्पिक विषय का चयन आप अपनी रुचि के अनुसार इन चारों विषयों में से किसी भी एक के रूप में कर सकते हैं | सिलेबस और पिछले दो-तीन सालों के प्रश्न पत्र को पैमाना बनाकर आप आसानी से दूसरे वैकल्पिक का चयन कर सकते हैं |

      हटाएं
  13. आदरणीय सर , मै up board se 11 th और फिर 2 साल आईटीआई डिप्लोमा किया और फिर पॉलिटैक्निक डिप्लोमा इन्फॉर्मेशन टेक्नोलोगी से तीन साल किया और फिर bca किया .
    means 11 + 2 year ITI + 3 Year Polytechnic Diploma + BCA ,

    क्या मै हिन्दी माध्यम से आईएएस UPSC का पेपर दे सकता हू , प्लीज हेल्प मी सर ..... मेरा सभी education up board aur up board technical एडुकेशन से है और bca PTU के distance mode से है और मै अभी WIPRO मी इंजीनियर हू ।प्लीज हेल्प मी सर .....

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. अगर आप सरल सुथरी हिंदी में अपने विचार सहजता के साथ रख सकते हैं तो आप को हिंदी माध्यम से UPSC की परीक्षा देने में कोई परेशानी नहीं आनी चाहिए |

      हटाएं
  14. नमस्कार सर,
    । मुझे सिविल सेवा की अच्छी तैयारी के लिए कुछ टिप्स दे।मैं अभी B.a प्रथम year में हूँ।

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है.

      हटाएं
    2. १. आईएएस और लेखन क्षमता

      दोस्तों , IAS EXAM भारत की सबसे कठिन परीक्षा मानी जाती है। हर नवयुवक का सपना होता है कि वह आईएएस बन कर , समाज में प्रतिष्ठा प्राप्त करे। अधिकांश लोग को शुरुआत में पता नही होता है कि करना क्या है ? बस फॉर्म भर दिया और कुछ मैगज़ीन पढ़ने लगे। बहुत मेहनत की तो PRE भी निकल गया। पर मैन्स में अटक गए।
      इस लिए इस एग्जाम को क्लियर करने के लिए सबसे जरूरी है लेखन अभ्यास। पिछले सालों में आये हुए प्रश्नो को अपने आप लिखने की कोशिस करिये। अपनी खुद की क्षमता विकसित करिये। ये एक ऐसी कला है जिसको अगर आप ने सीख लिया तो आप औरों से कही आगे निकल जायेगे। बहुत ही कम लोग ऐसे होते है जो उत्तर लेखन अभ्यास करते है।
      प्रारम्भ में आपको बहुत दिक्क़त आ सकती है। आपके पास विचारो का आभाव लगेगा। कई बार आपके वाक्य भी सही नही बनेगे। आप जो लिखेंगे उस पढ़ कर आपको खुद लगेगा कि क्या बकवास लिखा है। पर धीरे धीरे आप में सुधार होने लगेगा। और एक दिन आप के पास बहुत अच्छे शब्द होंगे , बहुत अच्छी शैली होगी।
      शैली का मतलब , आपके विचारोे की क्लैरिटी से है। मतलब यह कि आप जो सोचते है वही लिख पाते है या नही। इस लिए आज से आप लिखना शुरू करे। कोशिस करे कि वर्तमान के BURNING ISSUE पर अपनी राय दे। जो भी चीजे देश दुनिया में घट रही है उन पर आप के विचार है उनको लिखने की कोशिस करे। मेरी हार्दिक शुभकामनाये आप के साथ है।

      हटाएं
    3. आशीष जी, आपने बहुत अच्छे और व्यावहारिक सुझाव दिए हैं, शुक्रिया. आपके ब्लॉग पर काफी अच्छी पोस्ट पढने को मिलती हैं जिनसे बहुत सारे लोगों को मार्गदर्शन मिल रहा है | ऐसे ही सेवाकर्म में लगे रहिये |

      हटाएं
  15. Sir man s pernam.heardya s aabhar.sir app Jo student's Ka margdarsan kar rage h.vo bahut sharneya h.itne bade officer banne k bad bhi app Jo help or motivation karte h.vo man ko chhuta h.sir fir haerdya s aabhar.

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. शुक्रिया शोभित. शुभकामनाएँ |

      हटाएं
  16. Sir मैने अभी 10th के exam दिये है और मै IAS officer बनना चाहती हु इसके लिए मुझे कौनसा subject choose करना चाहिए

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. किशोर, आपके पास अभी बहुत समय है | आप अभी से प्रतियोगिता दर्पण एवं CSR पत्रिकाओं का अध्ययन शुरू कर सकते हैं. आप अपने प्लस टू के बाद सिविल सेवा को ध्यान में रखकर ग्रेजुएशन के लिए विषय चुन सकते हैं.

      हटाएं
  17. GOOD AFTER NOON SIR,

    MERA NAAM DINESH PAL HAI AUR MERI DOB 07-06-1991 HAI KYA MAI IAS BAN SAKTA HU MAINE M.A KIYA HAI SOCIOLOGY SE ME HINDI SE IAS KE TAYARI KARNA CHAITA HU PLS SIR SAHTA KARE

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. दिनेश जी, आप बिलकुल आईएएस की तैयारी कर सकते हैं | अगर समाजशाश्त्र में आपकी रूचि हो तो आप इसे वैकल्पिक विषय के रूप में चुन सकते है | एग्जाम नोटिफिकेशन का लिंक ब्लॉग में दिया हुआ है | उसे पढ़कर आपको इस एग्जाम के बारे में सारी बेसिक जानकारी मिल जायेगी |

      हटाएं
  18. SIR NAMSKAR MERA NAAM DEEPAK H OR MAI DELHI SE HU SIR MUJHE IAS BANNA H IAS MERA PASSION H,BUT SIR MERI PROBLM YE H K MERI BASIC STUDY ACHI NI H 12TH MAI 46% OR MAINE GRADUATION B OPEN SE KI H..SIR PLZZZ APNI RAY DE....PLZZZZZ SIR

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. aap ke mark se upsc ko fark nhin padta, aapke knowledge se padta hai. Basic qualification Graduation pass mark hai. aap apni taiyari swamulyankan ke bad shuru kar sakte hain.

      हटाएं
  19. Sir, please advise me...kya mai mains me hindi medium choose karke kuchhek technical words english me likh sakta hu???

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. Devnagri lipi me Technical word likh bracket me English term de sakte hain. Magar iska upyog kam se kam hona chahiye.

      हटाएं
  20. sir hindi ke liye koi important book ka name bataiye jo hindi optional ki taiyari me help kare

    उत्तर देंहटाएं